कप्तान धोनी और उपकप्तान कोहली ने की एक दूसरे की प्रशंसा

रविवार को मोहाली में हुए तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उपकप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली जीत पर एक-दूसरे की सराहना की हैं | पंजाब क्रिकेट संघ मैदान पर तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम के दो कप्तानों ने जीत हासिल कराई | इस तरह पांच मैचों की सीरीज में भारत ने 2-1 से बढ़त हासिल कर ली |

दुनिया के सफल कप्तानों में शुमार धोनी और सभी प्रारूपों में भविष्य के कप्तान के तौर पर देखे जा रहे कोहली की शानदार पारियों की बदौलत टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को सात विकेट से मात दी | मैच ख़त्म होने के बाद धोनी ने कहा की, “कोहली के साथ की बल्लेबाजी से मदद मिली और इसी कारण से हम बेहतरीन प्रदर्शन दिखाने में कामयाब रहे |”

धोनी ने कहा की, “शुरुआत से ही, विराट अपने खेल में सुधार करना और भारत को मैच में जीत दिलाना चाहते थे | उन्होंने बहुत कुछ सीखा है | वह अपनी क्षमता को काफी अच्छे से जानते हैं और उसे उसी प्रकार लागू भी करते हैं | उन्होंने न केवल अपने प्रशंसकों, बल्कि अपने परिवार को भी गौरवान्वित किया है |”

तीसरे एकदिवसीय मैच के दौरान धोनी ने पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम में एक और उपलब्धि हासिल की हैं |धोनी ने मैच के 17वें ओवर की पांचवीं गेंद पर छक्का मारने के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय करियर में अपने 9,000 रन पूरे कर लिए हैं | धोनी ने अपने करियर के 278वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की हैं |

कप्तान धोनी ने कहा कि करियर को इस स्तर पर उनके लिए यह उपलब्धि काफी महत्वपूर्ण है | उनका यह भी मानन था कि भारतीय टीम को दिल्ली में हुए दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भी जीत हासिल करनी चाहिए थी | वही उपकप्तान कोहली ने कहा कि धोनी और उनके लिए इस जीत को हासिल करने हेतु दोनों के बीच एक अच्छी साझेदारी कायम रखना काफी जरूरी था |

कोहली ने कहा हैं कि, “हम दोंनो ने काफी अच्छी साझेदारी की और 150 रन बनाए और इसके बाद मनीष पांडे ने भी अच्छी बल्लेबाजी कर मेरे आत्मविश्वास को और भी मजबूत किया |” साथ ही न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने भी धोनी और कोहली की साझेदारी की प्रशंसा करते हुए कहा कि मैच के लिए दोनों की साझेदारी बदलाव का पल थी |

James Neesham : I Don’t Think We Bowl Badly, Virat And Ms Batted Were Outstanding

New Zealand all-rounder James Neesham said that the Kiwis bowlers bowled very well but India’s Virat Kohli and MS Dhoni were batted outstanding, which was impossible to stop them for their bowlers.

Virat Kohli and MS Dhoni partnership added 151 runs for the third wicket and individually scored unbeaten 154 and 88 respectively helped India to won third ODI against New Zealand as they lead 2-1 in the five-match ODI Series on Sunday.

Neesham said batting from hosts was outstanding, “I think we fought pretty hard with the bat in the first innings to get..in the end what was a slightly below-par total. To be fair, I don’t think we bowled that badly in the second half of the game. The way Virat and MS batted was outstanding. When you are dealing with some of the best chasers in the history of the game, you got to have a bit to go your way. I think we just have to keep trying and putting the ball in the right areas and hopefully that in the next game it comes to fruition for us.”

Neesham and Matt Henry added 84 runs for the ninth wicket. Neesham revealed his initial plan for Indian but he does not succeed in his plan in the 4th ODI, he said,“It was obviously a reasonably iffy situation in the first innings. Henry came out and we basically thought of trying and batting the fifty overs, and try and scrap for as many runs as we can get. We obviously had a boost towards the end there with a few fours and sixes. I thought if we had eked out ten-fifteen runs in the end, that could have made a big difference.”

He added, “It dewed up a little bit. I think It was probably not as bad as the second game. These are the sort of conditions you have in the subcontinent and we sort of know how to deal with it. The lads had the towels and stuff out too. So it wasn’t a big issue.”

The all-rounder said his side next time will become with the full Planning for Indian skipper Dhoni. He said, “I think we know his modus operandi when he first comes in is often to chew up a few balls, get himself in and back himself to make it up in the end. Perhaps he saw the way it was more and more difficult for us to make runs and wanted to get on top of us early. It’s extremely challenging with only four fielders near the boundary and when a batsman comes out and plays shots like that. That’s something we need to talk about and try and combat in the rest of the series.”

He said about his middle order batsman, “I think we’ve seen, even for the Indian batsmen starting has been a challenge on the wickets in this series. You do a lot of work on the first ten balls in the nets, and sometimes it doesn’t come to fruition.”

Neesham added, “I think the conditions are quite challenging to us coming over. I think we have laid a couple of decent foundations but like in the Test series, it is the small periods of play that have cost us the game. I think the middle period today was again the same. The majority of our batting innings, we’ve been good, it’s just that last ten percent that has been an issue. Obviously, guys are not going to reinvent the wheel and change their game halfway through a one-day series. I suppose it is a case of getting off strike, try to keep your innings moving and then get on from there.”

INDvsNZ: कोहली के बल्ले से निकली टीम इंडिया की विराट जीत

LIVE | INDvsNZ | 3rd ODI | Mohali |

IND की पारी –

सबसे सफल कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी (80) और सभी प्रारूपों में भविष्य के कप्तान के तौर पर देखे जा रहे विराट कोहली (नाबाद 154) की नायाब पारियों की बदौलत भारत ने न्यूजीलैंड को सात विकेट से हरा दिया.

न्यूजीलैंड से मिले 286 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने कोहली और धौनी के बीच 151 रनों की साझेदारी की बदौलत भारत ने 48.2 ओवरों में 273 रन बनाए और 10 गेंद रहते जीत हासिल कर ली.

कोहली के साथ मनीष पांडेय (नाबाद 24) भारत को जीत दिलाकर नाबाद लौटे.

भारत ने रोहित शर्मा (13) और अजिंक्य रहाणे (5) के रूप में शुरुआत में जल्द ही दो विकेट गंवा दिए थे, लेकिन उसके बाद धोनी और कोहली ने जिस तरह भारतीय पारी को संभाला, लग रहा था कि भारतीय टीम के जहाज को दो-दो कप्तान नेतृत्व दे रहे हों.

धोनी ने 91 गेंदों की अपनी नायाब पारी में नौ चौके और तीन छक्के लगाए. इस दौरान धोनी ने एकदिवसीय करियर में 9,000 रनों का आंकड़ा पार किया और ऐसा करने वाले दुनिया के 17वें बल्लेबाज और तीसरे विकेटकीपर/बल्लेबाज बन गए.

धोनी यह कारनामा करने वाले पांचवें भारतीय बल्लेबाज हैं. इसके आलावा धोनी ने सर्वाधिक छक्के लगाने के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया. धोनी के नाम अब वनडे में 196 छक्के हो गए हैं, जबकि तेंदुलकर ने 195 छक्के लगाए थे. हालांकि इस सूची में 351 छक्कों के साथ शाहिद अफरीदी टॉप पर हैं.

कोहली ने जिस अंदाज में भारत को जीत दिलाई वह भारतीय क्रिकेट के भविष्य का मार्ग तय करने वाला होगा. कोहली ने 134 गेंदों की अपनी मैच जिताऊ पारी में 16 चौके और एक छक्का लगाया।

इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने टॉम लाथम (61), रॉस टेलर (44) और जिम्मी नीशम (57) और मैट हेनरी (नाबाद 39) के अलावा अपने बल्लेबाजों केसंयुक्त प्रयास से 285 रनों का चुनौतपूर्ण स्कोर खड़ा किया.

हालांकि किवी टीम पूरे ओवर नहीं खेल सकी और दो गेंद पहले ही पूरी टीम पवेलियन लौट गई.

न्यूजीलैंड की पारी समेटने में उमेश यादव और केदार जाधव ने तीन-तीन विकेट लेकर अहम भूमिका निभाई.

 

 

ओवर 49 – 

पारी की दूसरी गेंद पर मनीष पांडे के बल्ले से निकली जीत की बाउंड्री और इस शॉट के साथ ही भारत ने न्यूजीलैंड को तीसरे वनडे में सात विकेट से हरा दिया. जीत के साथ ही भारत ने पांच मैचों की सीरीज में 2-1 से बढ़त बनाई.  कोहली 154 रन बनाकर नाबाद रहे. मनीष पांडे 28 रन पर नाबाद रहे. कप्तान धोनी ने 80 रन की रिकॉर्ड तोड़ पारी खेली.

ओवर 48-

गेंदबाजी पर आए बोल्ट और उनका स्वागत कोहली ने बाउंड्री के साथ किया. दूसरी गेंद पर दो रन के बाद तीसरी गेंद को फिर भेजा बाउंड्री के बाहर. चौथी गेंद पर कोहली के बल्ले से निकला पहला छक्का. पांचवीं गेंद पर मिड विकेट से दो रन चुराए कोहली ने और कोहली का 150 रन पूरे. अंतिम गेंद पर बाउंड्री के साथ मैच टाई.  

 

 

ओवर 47 – 

टीम इंडिया को जीत के लिए अब 18 गेंदों पर 23 रन की जरूरत है. कोहली 132 और पांडे 24 रन बनाकर खेल रहे हैं.

 

ओवर 45 – स्कोर  

धोनी के आउट होने के बाद टीम को जीत दिलाने की जिम्मेदारी कोहली और पांडे के कंधों पर है. 30 गेंद पर अब टीम को जीत के लिए 35 रन की जरूरत

 

 

 

शतक – कोहली ने 104 गेंद पर अपना 26वां शतक लगाया. सबसे तेज 26 शतक लगाने वाले बल्लेबाज बने. कोहली ने अपनी पारी में 10 चौके लगाए हैं.

ओवर 40 – स्कोर – 213/3

धोनी के आउट होने के बाद पांडे मैदान पर आए और कुछ बेहतरीन शॉट लगाए, दूसरी तरफ कोहली 26वें शतक की ओर हैं.

 

WICKET:  35.5 – टीम इंडिया को लगा तीसरा झटका. महेंद्र सिंह धोनी 80 रन बनाकर पवेलियन लौटे. कोहली और धोनी ने तीसरे विकेट के लिए 151 रन की साझेदारी कर टीम को मजबूत स्थिति में ला दिया .  स्कोर 192 पर 3

ओवर 35 – स्कोर –  187/2

कोहली और धोनी ने सीरीज में बढ़त बनाने की ओऱ कदम बढ़ा दिए हैं.

India
India’s Virat Kohli raises his bat after scoring half a century during their third one-day international cricket match against New Zealand in Mohali, India, Sunday, Oct. 23, 2016. (AP Photo/Tsering Topgyal)

ओवर 30 – स्कोर- 159/2

धोनी और कोहली के बीच तीसरे विकेट के लिए सौ से ज्यादा की साझेदारी हो चुकी है. धोनी रिकॉ़र्ड पर रिकॉर्ड बनाते जा रहे हैं और भारत जीत की ओर बढ़ता जा रहा है. 20 ओवर में भारत को 127 रनों की जरूरत है.

 

धोनी का रिकॉर्ड – वनडे क्रिकेट में भारत की ओर से सबसे अधिक छक्का लगाने वाले बल्लेबाज बने धोनी. सचिन तेंदुलकर के 195 छक्के के रिकॉर्ड को तोड़ा.

 

पचास – 59 गेंद पर धोनी ने अपना 61वां वनडे अर्द्धशतक पूरा किया. अपनी पारी में 4 चौके और 2 छक्के लगाए हैं.

 

ओवर 25 – स्कोर – 130 पर 2

धोनी और कोहली ने 80 से ज्यादा की साझेदारी कर टीम को मजबूत आधार दे दिया है. रन गति भी अच्छी है और कोहली अर्द्धशतक पूरा कर चूके हैं. जबकि धोनी करीब हैं,

 

रिकॉर्ड –  कप्तान धोनी ने सैंटनर को छक्का लगाकर वनडे क्रिकेट में भारत की तरफ से सबसे अधिक छक्का लगाने के सचिन तेंदुलकर के 195 छक्कों की बराबरी कर ली है.

ओवर 20 – स्कोर 103 पर 2

कोहली और धोनी ने मोर्चा संभाल लिया है. टीम ने सौ का आंकड़ा पार किया. कोहली ने अर्द्धशतक पूरा किया तो धोनी बढ़ रहे हैं.

 

पचास – 49 गेंदों पर कोहली ने अपना 38वां अर्द्धशतक पूरा किया.

 

रिकॉर्ड – कप्तान धोनी 9000 रन बनाने वाले तीसरे विकेटकीपर बल्लेबाज, पांचवें भारतीय बल्लेबाज और 17वें बल्लेबाज बन गए. लेकिन 50 के ऊपर के औसत के साथ इस आकड़े को पार करने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं. धोनी ने इस रिकॉर्ड को शानदार छक्का लगाकर पूरा किया और अब नजर धोनी के छक्कों के रिकॉर्ड पर होगी.

MS
Indian cricket captain Mahendra Singh Dhoni plays a shot during their third one-day international cricket match against New Zealand in Mohali, India, Sunday, Oct. 23, 2016. (AP Photo/Tsering Topgyal)

ओवर 15 – स्कोर – 67/2

धोनी और कोहली ने पारी को संभालने के साथ रन गति पर भी ध्यान दिया है और तेज कदमों से रन भी लिए हैं.

 

ओवर 10 – स्कोर 45 पर 2

रोहित शर्मा के आउट होने के बाद कप्तान धोनी खुद कोहली का साथ देने मैदान प आए हैं. पिछले पांच ओवर में 20 रन बनाए हैं टीम इंडिया ने

 

 

WICKET: 8.4 – टीम इंडिया को लगा दूसरा झटका. रोहित शर्मा 13 रन बनाकर पवेलियन लौटे. स्कोर 41 पर 2

ओवर 5 – स्कोर 25 पर 1

टीम इंडिया के सामने 286 रनों का लक्ष्य है लेकिन टीम इंडिया को तीसरे ओवर में पहला झटका लगा, अजिंक्य रहाणे 5 रन बनाने के बाद पवेलियन लौट गए. क्रीज पर रोहित शर्मा का साथ देने उपकप्तान विराट कोहली आए हैं.

WICKET: 2.5 – टीम इंडिया को लगा पहला झटका. रहाणे पांच रन बनाने के बाद हेनरी की गेंद पर हुए आउट. स्कोर 13 पर 1

NZ की पारी:

तीसरे वनडे मैच में न्यूजीलैंड ने भारत ने सामने जीत के लिए 286 रनों की चुनौती रखी है. हालांकि टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी किवी टीम दो गेंद पहले ही ऑलआउट हो गई. टॉम लाथम (61) और जिम्मी नीशम (57) की अहम पारियों की बदौलत न्यूजीलैंड ने 49.4 ओवरों में सारे विकेट गंवाकर 285 रन बनाए.

न्यूजीलैंड को शुरुआत अच्छी मिली. मार्टिन गुप्टिल (27) और केन विलियमसन (22) बड़ी पारियां तो नहीं खेल सके, लेकिन उन्होंने टीम को अपेक्षित शुरुआत जरूर दिलाई.

गुप्टिल, विलियमसन के जाने के बाद लाथम को अपनी टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी रॉस टेलर (44) का अच्छा साथ मिला. दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 73 रन जोड़े. न्यूजीलैंड टीम इस साझेदारी की बदौलत 28 ओवरों में 150 रन बना चुकी थी और मजबूत स्थिति में नजर आने लगी थी.

लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने यहां जबरदस्त वापसी की और लगातार तीन ओवरों में न्यूजीलैंड के तीन विकेट चटका डाले. मिशेल सैंटनर (7) भी विकेटों के इस बहाव में बच नहीं सके. उमेश यादव ने 199 के कुल योग पर टिम साउदी (13) का विकेट चटका किवी टीम की कमर ही तोड़ दी.

37.5 ओवरों में 199 के कुल योग पर आठ विकेट गंवा चुकी किवी टीम बुरी तरह संकट में नजर आ रही थी, लेकिन यहां नीशम ने मैट हेनरी (नाबाद 39) के साथ करिश्माई साझेदारी की. दोनों ने नौवें विकेट के लिए 7.52 की तेज रन गति से 84 रन जोड़ डाले और अपनी टीम को फिर से मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया.

47 गेंदों में सात चौके लगाकर मैच बचाऊ पारी खेलने वाले नीशम का विकेट छह गेंद पहले केदार जाधव ने लिया.

उमेश और केदार ने तीन-तीन विकेट चटकाए, जबकि बुमराह और अमित मिश्रा को दो-दो विकेट मिले. बुमराह ने आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर बोल्ट का विकेट चटका किवी टीम की पारी समेटी.

 

WICKET: 49.4 – बुमराह ने अंतिम विकेट के तौर पर बोल्ट को किया क्लीन बोल्ड. न्यूजीलैंड की पारी 285 पर सिमटी. भारत के सामने 286 रनों का लक्ष्य है.

 

 

 

WICKET: 48.6 – आखिरकार भारत को नौवीं सफलता मिली, 57 रन बनाकर नीशम उमेश की गेंद पर हुए आउट. स्कोर 283 पर 9

 

ओवर 45 – स्कोर – 243 पर 8

नीशम और हेनरी ने भारतीय गेंदबाजों को अंतिम के दो विकेट के लिए तरसा रखा है. दोनों बल्लेबाज मौका मिलने पर बड़े शॉट भी खेल रहे हैं.

 

ओवर 40 – स्कोर – 211 पर 8

न्यूजीलैंड ने पिछले 10 ओवर में 4 विकेट गंवाए हैं. भारतीय गेंदबाजों ने शानदार वापसी करते हुए मैच पर पकड़ बना ली है. दो विकेट बचे हैं और देखना होगा कि न्यूजीलैंड के बचे दो बल्लेबाज स्कोर को कहां तक ले जा पाते हैं.

WICKET: ओवर- 37.5 – उमेश यादव ने साउदी को बोल्ड कर टीम को आठवीं सफलता दिलाई. स्कोर 199 पर 8

 

ओवर 35 – स्कोर 190 पर 7

पिछले पांच ओवर में तीन विकेट गंवाने के बाद न्यूजीलैंड पूरी तरह बैकफुट पर चला गया है.

 

WICKET: ओवर- 34.2:- बुमराह ने सैंटनर के रूप में टीम को दिलाई सातवीं सफलता. स्कोर 180 पर 7

 

WICKET: ओवर- 31.5 – केदार जाधव ने टॉम लैथम को आउट कर न्यूजीलैंड को दिया बड़ा झटका, स्कोर – 169 पर 6

 

WICKET: ओवर- 30.1 – अमित मिश्रा की गेंद पर स्टंप हुए रॉन्की.  स्कोर 161 पर 5

 

ओवर 30 – स्कोर – 161 पर 4

30 ओवर के बाद न्यूजीलैंड ने चार विकेट के नुकसान पर 161 रन बना लिए हैं. पिछले पांच ओवर में 6 से ज्यादा के औसत से भले ही न्यूजीलैंड ने रन बनाए हों लेकिन लगातर दो ओवर में विकेट गिरने से भारतीय टीम नें दबाव बना दिया है. लैथन 56 रन बनाकर खेल रहे हैं.

 

WICKET: ओवर 29.4 – केदार जाधव ने कोरी एंडरसन को आउट करा टीम को चौथी सफलता दिलाई. स्कोर 160 पर 4

 

WICKET: –  28.3 – अमित मिश्रा ने खतरनाक दिख रहे रॉस टेलर को स्टंप करा टीम को तीसरी सफलता दिलाई. 153/3

 

Fifty: 26वें ओवर में के बल्लेबाज़ ने पूरा किया अर्धशतक. 133/2.

25 ओवर:

25 ओवर के बाद न्यूज़ीलैंड 132/2.

20 ओवर:

न्यूज़ीलैंड की पारी के 20 ओवर हुए पूरे. टीम का स्कोर 105/2, अपने अर्धशतक की बतरफ बढ़ रहे हैं ओपनर टॉम लेथम.

19वें ओवर में पूरे हुए न्यूज़ीलैंड टीम के 100 रन.

15 ओवर:

15 ओवर के बाद न्यूज़ीलैंड की टीम का स्कोर 88/2.

WICKET: को मिली दूसरी सफलता, जाधव ने झटका पिछले मैच के शतकवीर विलियमसन का विकेट. 80/2.

10 ओवर:

NZ: 64/1.

पहले 10 ओवर में तूफानी रफ्तार में आगे बढ़ रही है न्यूज़ीलैंड के टीम. मार्टिन गप्टिल का विकेट गिरने के बावजूद पिछले 5 ओवर में टीम ने बटौरे 38 रन.

2 छक्के लगाकर विस्फोटक बल्लेबाज़ी कर रहे मार्टिन गप्टिल को उमेश यादव ने बार फिर एलबीडबल्यू आउट कर मैदान से बाहर चलता कर दिया है.

WICKET को मिली पहली सफलता, मार्टिन गप्टिल 27 रन बनाकर हुए आउट. 46/1

5 ओवर:

NZ: 26/0.

पहले 5 ओवर में ज़िम्मेदारी से खेल रहे हैं न्यूज़ीलैंड के ओपनर मार्टिन गप्टिल और टॉम लेथम. पाड्या की गेंद पर गप्टिल ने लगाया एक लंबा छक्का.

मैदान पर उतरे दोनों टीमों के खिलाड़ी.

————————————————————–

टीमें:

भारत: रोहित शर्मा, अजिंक्ये रहाणे, विराट कोहली, मनीष पांडे, केदार जाधव, एमएस धोनी, हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, अमित मिश्रा, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह.

न्यूज़ीलैंड: मार्टिन गुप्टिल, टॉम लेथम, केन विलियमसन, रॉस टेलर, कॉरी एंडरसन, ल्यूक रॉन्ची, जिमी निशम, मैट सैंटनर, टिम साउदी, ट्रेंट बोल्ट, मैट हेनरी.

# बिना किसी बदलाव के मैदान पर उतर रही है भारतीय टीम.

TOSS: सीरीज़ में भारतीय टीम ने लगातार छठी बार जीता टॉस, आज किया पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला.

 

New Zealand Team Lacks Determination, Grit And Fight – Sourav Ganguly

Mahendra Singh Dhoni Led Indian ODI Team record their historic 900th ODI win, when they won the series opener against New Zealand in Dharamsala on Sunday, where the Men in Blue leading with 1-0 in the 5-match One Day International Series.

All Team

Former Indian Captain Sourav Ganguly feels that if New Zealand perform like that previous matches they can not win the matches and they are going to be have prepare for one more whitewash by India.

During in a chat with Times of India, Dada said after the victory in Dharamshala, “I was watching the game & I have seen the Test series as well, with all due respect to everyone in the Kiwi team, they want this series to get over as soon as possible. I think they (New Zealand) have given up hope, they have given up coming back and trying to beat this Indian team. There is no determination in that side, there is no fight or grit in that team”

Ganguly also added about the New Zealand’s senior batsman, who could manage only 190 runs on the board. He said, “You see Martin Guptill, innings after innings he has been rolled over by the Indian quicks. New Zealand cricket has never beaten the likes of Australia, South Africa or England as they never had that much talent but when you see dismissals like the ones of Kane Williamson & Ross Taylor, you just don’t see the determination. The only way they can come back is show some fight. If Tim Southee at no. 10 can get a fifty, if Tom Latham can bat with grit and determination then I really don’t see why the others cannot.”

Virat Kohli once again proved that he is the star batsman for India in an ODI run chase who has scored unbeaten 85 runs against the Kiwis in the first ODI. Dada highly praised Kohli for his batting, “When you see Virat Kohli bat you see the fire, you see the hunger, you see the feet moving, it is just a different mindset. It is just his quality, he enjoys batting in ODI cricket. Players go through this period when they start believing sub-consciously that I will just walk on and get runs and that is exactly what has happened to Virat Kohli. To be honest I don’t see Virat Kohli facing any problems with this New Zealand attack specially when they get only 190 on the board with this white ball & on these pitches.”

MS Dhoni has credited Indian bowlers for this victory and hugely praised ODI debutantHardik Pandya who took 3 wicktes for 31 run. Ganguly said, “Dhoni showed a lot of faith in Hardik Pandya. The young fast bowler Pandya created trouble for them (New Zealand), Umesh Yadav, Bhuvneshwar Kumar, Mohammed Shami all have created trouble for them, so in a side when every opposition bowler is giving trouble for the batsmen then you don’t win. From my point of view what lacks in this New Zealand team is fight. I have see New Zealand teams in the past under the likes of Stephen Flemming and Brendon McCullum, there was a lot more heart in those sides as compared to this one.”

The second ODI match will be played at the Feroz Shah Kotla in Delhi on 20th October.