कप्तान धोनी और उपकप्तान कोहली ने की एक दूसरे की प्रशंसा

रविवार को मोहाली में हुए तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उपकप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली जीत पर एक-दूसरे की सराहना की हैं | पंजाब क्रिकेट संघ मैदान पर तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम के दो कप्तानों ने जीत हासिल कराई | इस तरह पांच मैचों की सीरीज में भारत ने 2-1 से बढ़त हासिल कर ली |

दुनिया के सफल कप्तानों में शुमार धोनी और सभी प्रारूपों में भविष्य के कप्तान के तौर पर देखे जा रहे कोहली की शानदार पारियों की बदौलत टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को सात विकेट से मात दी | मैच ख़त्म होने के बाद धोनी ने कहा की, “कोहली के साथ की बल्लेबाजी से मदद मिली और इसी कारण से हम बेहतरीन प्रदर्शन दिखाने में कामयाब रहे |”

धोनी ने कहा की, “शुरुआत से ही, विराट अपने खेल में सुधार करना और भारत को मैच में जीत दिलाना चाहते थे | उन्होंने बहुत कुछ सीखा है | वह अपनी क्षमता को काफी अच्छे से जानते हैं और उसे उसी प्रकार लागू भी करते हैं | उन्होंने न केवल अपने प्रशंसकों, बल्कि अपने परिवार को भी गौरवान्वित किया है |”

तीसरे एकदिवसीय मैच के दौरान धोनी ने पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम में एक और उपलब्धि हासिल की हैं |धोनी ने मैच के 17वें ओवर की पांचवीं गेंद पर छक्का मारने के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय करियर में अपने 9,000 रन पूरे कर लिए हैं | धोनी ने अपने करियर के 278वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की हैं |

कप्तान धोनी ने कहा कि करियर को इस स्तर पर उनके लिए यह उपलब्धि काफी महत्वपूर्ण है | उनका यह भी मानन था कि भारतीय टीम को दिल्ली में हुए दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में भी जीत हासिल करनी चाहिए थी | वही उपकप्तान कोहली ने कहा कि धोनी और उनके लिए इस जीत को हासिल करने हेतु दोनों के बीच एक अच्छी साझेदारी कायम रखना काफी जरूरी था |

कोहली ने कहा हैं कि, “हम दोंनो ने काफी अच्छी साझेदारी की और 150 रन बनाए और इसके बाद मनीष पांडे ने भी अच्छी बल्लेबाजी कर मेरे आत्मविश्वास को और भी मजबूत किया |” साथ ही न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने भी धोनी और कोहली की साझेदारी की प्रशंसा करते हुए कहा कि मैच के लिए दोनों की साझेदारी बदलाव का पल थी |