ये हैं बॉलीवुड की 5 फिल्में जिनमें भारत-पाक की टेंशन के बीच दिखी बेपनाह मोहब्बत

भारत और पड़ोसी देश पाकिस्तान के रिश्तों के बीच इन दिनों काफी कड़वाहट देखने को मिल रही है.

हालांकि भारत-पाकिस्तान के रिश्तों पर आधारित कई फिल्में भी बॉलीवुड में बन चुकी है. इन दोनों देशों के बीच भले ही माहौल कितना भी तनावपूर्ण क्यों न हो लेकिन फिल्मों में अक्सर दोनों देशों के बीच हिन्दू मुस्लिम प्रेम कहानी को दिखाने की कोशिश की जाती रही है.

आज हम आपको बताने जा रहे हैं भारत-पाकिस्तान के संबंधों पर आधारित ऐसी ही 5 फिल्मों के बारे में, जिनमें दोनों देशों की दुश्मनी के बीच हिन्दू मुस्लिम प्रेम कहानी को बड़ी ही खूबसूरती से पेश किया गया है.

1- पीके

आमिर खान की फिल्म ‘पीके’ में एक ओर जहां आमिर एक एलियंस का किरदार निभाते नज़र आए तो वहीं अनुष्का शर्मा और सुशांत सिंह राजपूत के बीच लव स्टोरी को बेहद खूबसूरती से दिखाया गया है.

इस फिल्म में सरफराज का किरदार निभानेवाले सुशांत सिंह राजपूत ने एक पाकिस्तानी लड़के का किरदार निभाया है तो वहीं अनुष्का ने एक हिंदुस्तानी लड़की की भूमिका अदा की है.

Pk

2- एक था टाइगर

फिल्म ‘एक था टाइगर’ में भारत-पाक के दुश्मन एजेंसियों के टाइगर और जोया के बीच प्रेम कहानी को पर्दे पर दिखाया गया है. इस फिल्म में टाइगर बने सलमान और जोया बनी कैटरीना कैफ की दोनों देश मिलकर तलाश करते हैं.

Ek tha tiger

3 – वीर जारा

फिल्म ‘वीर जारा’ में हिंदू एयरफोर्स पायलट वीर बने शाहरुख खान को पाकिस्तानी चुलबुली लड़की जारा का किरदार निभानेवाली प्रीति जिंटा से प्यार हो जाता है.

इस प्रेम कहानी में सरहद की दीवार बीच में आ जाती है और 22 साल पाकिस्तान की जेल में रहने के बाद वीर का मिलन जारा से हो पाता है.

Veer Zara

4 – गदर, एक प्रेम कथा

सन 1947 के भारत-पाक बंटवारे पर आधारित फिल्म ‘गदर-एक प्रेम कथा’ में तारा सिंह बने सनी देओल को सकीना बनी अमीषा पटेल से प्यार हो जाता है.

दोनों एक-दूसरे से शादी भी कर लेते हैं लेकिन शादी के बाद दोनों को सकीना के पिता अलग करने की काफी कोशिश करते हैं. पर आखिर में जीत दोनों के प्यार की ही होती है.

gadar

5 – हिना

फिल्म ‘हिना’ में ऋषि कपूर श्रीनगर में हादसे का शिकार हो जाते हैं और पाकिस्तान पहुंच जाते हैं, जहां उनकी याददाश्त चली जाती है और उन्हें पाकिस्तानी लड़की हिना यानी जेबा बख्तियार से प्यार हो जाता है.

लेकिन इस कहानी में सियासी मोड़ आ जाता है. आखिर में हिना की मौत हो जाती है और दोनों की ये प्रेम कहानी सफल नहीं हो पाती है.

henna

गौरतलब है कि इन पांच फिल्मों के अलावा भी बॉलीवुड की कई और ऐसी फिल्में हैं जिनमें भारत-पाकिस्तान के रिश्तों की कड़वाहट के साथ ही दोनों देशों के बीच हिन्दू मुस्लिम प्रेम कहानी को दिखाने की कोशिश की गई है.

 

INDvsNZ: टीम इंडिया की दीवाली, बड़ी जीत के साथ न्यूज़ीलैंड से जीती सीरीज़

LIVE | INDvsNZ | 5th ODI | Vizag, Vishakhapatnam

न्यूजीलैंड की पारी –

अमित मिश्रा (18-5) के नेतृत्व में अपने गेंदबाजों को उम्दा प्रदर्शन के दम पर भारत ने शनिवार को खेले गए पांचवें और अंतिम वनडे मैच में न्यूजीलैंड को 190 रनों के अंतर से हराकर सीरीज 3-2 से अपने नाम कर ली. भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित शर्मा (70) और विराट कोहली (65) की उम्दा अर्धशतकीय पारियों की मदद से न्यूजीलैंड के सामने 270 रनों का लक्ष्य रखा. जवाब में खेलते हुए मेहमान टीम 23.1 ओवरों में सभी विकेट गंवाकर 79 रन ही बना सकी.

यह भारत के खिलाफ मेहमान टीम का न्यूनतम वनडे स्कोर है. इससे पहले का न्यूनतम योग 103 रन रहा था.

मिश्रा के अलावा अपना पहला वनडे मैच खेल रहे जयंत यादव, जसप्रीत बुमराह और उमेश यादव ने एक-एक सफलता हासिल की. अक्षर पटेल को दो विकेट मिले.

न्यूजीलैंड की ओर से कप्तान केन विलियमसन ने सबसे अधिक 27 रन बनाए. टॉम लाथम और रॉस टेलर ने 19-19 रन जोड़े. उसके सात बल्लेबाज दहाई तक भी नहीं पहुंच सके.

इससे पहले, भारत ने निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 269 रन बनाए. रोहित और कोहली के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 41, अक्षर पटेल ने 24, अजिंक्य रहाणे ने 20 रन बनाए. केदार जाधव 39 रनों पर नाबाद रहे.

कीवी टीम की ओर से ईश सोढ़ी और ट्रेंट बाउल्ट ने दो-दो सफलता हासिल की जबकि जीमी नीशम और मिशेल सेंटनर को एक-एक सफलता मिली.

WICKET 23.1 – पटेल ने सैंटनर को बोल्ड कर टीम इंडिया को 190 रनों की विशाल जीत दिला दी. 

WICKET 21.4 – सोढ़ी(0) बने अमित मिश्रा के चौथे शिकार, 76 पर 9

पांच ओवर में पांच विकेट निकाल कर भारतीय स्पिनर खास तौर पर अमित मिश्रा मे मुकाबला एक तरफा बना दिया है.

WICKET 19.4 – मिश्रा की गेंद पर स्टंप हुए साउदी(0). स्कोर 74 पर 8

WICKET 19.1 – मिश्रा का जलवा, नीशम 3 रन बनाकर पवेलियन लौटे. स्कोर 74 पर 7

WICKET 18.6 – एंडरसन (0) के रूप में मिला जयंत यादव को वनडे करियर का पहला विकेट. स्कोर 74/6

WICKET 15.6 – मिश्रा की गुगली पर क्लीन बोल्ड हुए वाटलिंग(0), स्कोर 66/5

WICKET  15.4 – अमित मिश्रा ने रॉस टेलर (19) को विकेट के पीछे कैच करवाया, स्कोर 66 पर 4

 

ओवर 15 – स्कोर 64 पर 3

अक्षर पटेल ने सबसे बड़ा विकेट निकाल कर टीम को बड़ी सफलता दिलाई है. न्यूजीलैंड टीम के तीन बड़े बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके हैं.

WICKET 14.4: अक्षर पटेल ने कप्तान विलियमसन (27) को आउट कर टीम को तीसरी और सबसे बड़ी सफलता दिलाई. 63/3

 

ओवर 10 – स्कोर 46/2

न्यूजीलैंड को छठे ओवर में दूसरा झटका लगा और इन फॉर्म बल्लेबाज टॉम लैथम पवेलियन लौटे. न्यूजीलैंड की पारी विलियमसन और टेलर की बल्लेबाजी पर निर्भर है. जबकि भारतीय गेंदबाज इस जोड़ी को भी जल्द तोड़ने की कोशिश करेगी. भारत को नौवें ओवर में बड़ी सफलता मिल जाती अगर कोहली गेंद को सही तरीके से पटेल की ओर थ्रो करते.

Bumrah
India’s Jasprit Bumrah celebrates after taking the wicket of New Zealand’s Tom Latham during their fifth and last one day international cricket match in Visakhapatnam, India, Saturday, Oct. 29, 2016. (AP Photo/Aijaz Rahi)

WICKET 5.6 – बुमराह ने दिलाई दूसरी सफलता, लैथम 19 रन बनाकर पवेलियन लौटे. स्कोर 28/2

 

ओवर 5 – स्कोर 27 पर 1

पहले ओवर में पहले विकेट के गिरने के बाद न्यूजीलैंड ने संभल कर पारी आगे बढ़ाने का काम किया है. इन फॉर्म टॉम लैथम और कप्तान केन विलियमसन मैदान पर हैं. मैच  टीम की जीत में इस जोड़ी का अहम योगदान होगा फिर चाहे बात भारत की हो या न्यूजीलैंड की.

 

WICKET – 0.4 – उमेश यादव ने चौथी गेंद पर टीम इंडिया को पहली सफलता दिलाई. गुप्टिल बेहतरीन आउट स्विंगर पर हुए बोल्ड.  स्कोर 0 पर 1

भारत की पारी:

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (70) और उपकप्तान विराट कोहली (65) की उम्दा अर्धशतकीय पारियों की मदद से भारत ने एसीए-वीडीसीए क्रिकेट स्टेडियम में शनिवार को जारी पांचवें वनडे मैच में न्यूजीलैंड के सामने 270 रनों का लक्ष्य रखा है. पांच मैचों की इस सीरीज में दोनों टीमें 2-2 की बराबरी पर हैं और इस लिहाज से यह मैच निर्णायक है.

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 269 रन बनाए. रोहित और कोहली के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने 41, अक्षर पटेल ने 24, अजिंक्य रहाणे ने 20 रन बनाए. केदार जाधव 39 रनों पर नाबाद रहे.

कीवी टीम की ओर से ईश सोढ़ी और ट्रेंट बाउल्ट ने दो-दो सफलता हासिल की जबकि जीमी नीशम और मिशेल सेंटनर को एक-एक सफलता मिली.

भारत ने एक लिहाज से अच्छी शुरुआत की. रोहित ने रहाणे के साथ पहले विकेट के लिए 40 रन जोड़े. रहाणे 39 गेंदों पर तीन चौके लगाने के बाद आउट हुए.

इसके बाद रोहित और कोहली ने दूसरे विकटे के लिए 79 रनों की साझेदारी की. रोहित का विकेट 119 के कुल योग पर गिरा. रोहित ने 65 गेंदों का सामना कर पांच चौके और तीन छक्के लगाए.

रोहित की विदाई के बाद कोहली और कप्तान ने पारी को आगे बढ़ाते हुए तीसरे विकेट के लिए 71 रन जोड़े. कप्तान 190 के कुल योग पर आउट हुए. कप्तान ने 59 गेदों पर चार चौके और एक छक्का लगाया.

मनीष पांडे (0) ने निराश किया लेकिन इसके बाद पटेल और जाधव ने छठे विकेट के लिए 46 रनों की साझेदारी की. जाधव ने पांडे के आउट होने के बाद कोहली के साथ 25 रन जोड़े थे.

कोहली का विकेट 220 और पांडे का 195 रनों पर गिरा था. पटेल 266 रन के कुल योग पर आउट हुए. कोहली ने 78 गेदों पर दो चौके और एक छक्का लगाया.

 

ओवर 50 – स्कोर – 269 पर 6

स्लोअर के आगे केदार जाधव और अक्षर पटेल का बल्ला बिलकुल भी नहीं चला. टीम की उम्मीद उनसे बड़े और तेज पारी की थी लेकिन 49वें ओवर की पांचवीं गेद पर कोई बड़ा शॉट देखने को मिला. अंतिम ओवर की दूसरी गेंद पर जाधव बोल्ट को छक्का मारा. अंतिम के पांच ओवर में भारतीय बल्लेबाज ने एक विकेट गंवाए लेकिन तेज पारी भी नहीं खेल पाए. अंतिम के पांच ओवर में भारतीय टीम ने 1 विकेट खोकर 38 रन बनाए.

WICKET 49.4 – टीम इंडिया का छठा विकेट गिरा, अक्षर पटेल 24 रन बनाकर पवेलियन लौटे. स्कोर 266 पर 6

 

ओवर 45 – स्कोर – 231 पर 5

भारतीय टीम के बड़े स्कोर को लगा बड़ा झटका, कोहली पवेलियन लौटे. अब केदार जाधव और अक्षर पटेल मैदान पर हैं. टीम की उम्मीद अंतिम पांच ओवर में कम से कम 50 रन बनाने की होगी.

 

WICKET 43.1 – टीम इंडिया को लगा बड़ा झटका. कोहली 65 रन बनाकर हुए आउट. स्कोर 220/5

 

ओवर 40 – स्कोर – 199 पर 4

टीम इंडिया ने धोनी और पांडे के विकेट गंवाए. कोहली अर्द्धशतक लगा चुके हैं लेकिन टीम इंडिया को बड़े स्कोर के लिए एक और बेहतरीन साझेदारी की जरूरत है. अब स्लॉग ओवर भी शुरु हुआ और देखना है कि क्या कोहली एक और शतक लगाने में कामयाब होते हैं या नहीं. बचे 10 ओवर में टीम इंडिया की कोशिश 100 से ज्यादा रन बनाने की होगी.

 

WICKET 38.4 – कोहली एक तरफ से अच्छा खेल दिखा रहे हैं उन्हें दूसरे छोर से साथ की जरूरत है. लेकिन बिना कोई रन बनाए पवेलियन लौट गए मनीष पांडे, स्कोर 195/4

WICKET 37.3 – टीम इंडिया को लगा तीसरा झटका, कप्तान धोनी 41 रन बनाकर पवेलियन लौटे.

अर्द्धशतक – बेहतरीन फॉर्म में चल रहे विराट कोहली ने वनडे क्रिकेट में अपना 38वां अर्द्धशतक. 62 गेंद की अपनी पारी में कोहली ने अब तक 1 चौका और 1 छक्का ही लगाया  है. कोहली ने इस मैदान पर 118, 117 और 99 रन की पारी खेली है.

 

ओवर 35 – स्कोर –  183/2

कोहली और धोनी ने तीसरे विकेट के लिए अब तक 79 रन की साझेदारी कर ली है. दोनों ने तेज गति से रन बनाना भी शुरु कर दिया है. कोहली और धोनी अर्द्धशतक के करीब हैं.

 

33.3 – एंडरसन ने अपनी ही गेंद पर धोनी का कैच छोड़ा, इसके बाद अगली गेंद को धोनी ने सीमा रेखा पार पहुंचाया.

 

ओवर 30 – 154 पर 2

30वां ओवर लेकर आए सोढ़ी और ओवर की दूसरी गेंद पर कोहली ने लगाया बेहतरीन छक्का. चौथी गेंद पर धोनी ने लगाया चौका. ओवर से आए 11 रन. भारत 150 के पार

ओवर 25 – 127/2

भारत ने रोहित शर्मा का विकेट गंवाया और कप्तान धोनी मैदान पर आए. भारत का स्कोर 127 पर 2

WICKET: #IndvsNZ टीम इंडिया को लगा दूसरा झटका, रोहित शर्मा 70 रन बनाकर हुए आउट. #IND 119/2.

20 ओवर: IND 112/1.

भारतीय टीम 112/1. रोहित शर्मा ने पूरा किया अर्धशतक.

रोहित शर्मा के छक्के के साथ भारतीय टीम के 50 रन हुए पूरे.

10 ओवर: IND 45/1.

पहले 10 ओवर में भारतीय टीम नेे 1 विकेट खोकर 45 रन बनाए हैं. इस समय मैदान पर रोहित शर्मा के साथ विशाकापटनम के सबसे सफल बल्लेबाज़ विराट कोहली मौजूद हैं.

भारत की पारी के 10वें ओवर में टीम इंडिया को लगा पहला झटका, नीशम की गेंद पर अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहे अजिंक्ये रहाणे 20 रन बनाकर हुए आउट.

WICKET #IndvsNZ टीम इंडिया को लगा पहला झटका, @ajinkyarahane88 20 रन बनाकर हुए आउट. #IND 40/1

5 ओवर: IND 17/0.

पहले 5 ओवर में भारतीय टीम की धीमी शुरूआत. रहाणे 11, रोहित 5 रन बनाकर क्रीज़ पर मौजूद.

# मैदान पर उतरे भारतीय टीम के ओपनर अजिंक्ये रहाणे और रोहित शर्मा.

——————————————————————————————-

#TOSS: भारतीय कप्तान धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया है.

# जयंत यादव आज भारत के लिए करेंगे अपना डेब्यू.

टीमें:

भारत: महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान-विकेटकीपर), रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, जयंत यादव, अमित मिश्रा, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, और केदार जाधव.

न्यूजीलैंड: मार्टिन गुप्टिल, टॉम लेथम, केन विलियमसन, रॉस टेलर, जिमी नीशम, बी.जे. वाटलिंग, कॉरी एंडरसन, मिचेल सैंटनर, ईश सोढी, ट्रेंट बोल्ट और टिम साउदी.

पाकिस्तानी सीजफायर में देश का एक और जवान शहीद; क्या अब पाकिस्तान से युद्ध ही है एक मात्र विकल्प?

पाकिस्तान की ओर से सोमवार को एलओसी पर पुंछ और रजौरी जिलों में लगातार फायरिंग जारी है। पाकिस्तानी सैनिकों ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ और रजौरी जिलों में नियंत्रण रेखा पर गोलियां एवं गोले बरसाकर सीजफायर का उल्लंघन किया है। इस हमले में सेना का एक जवान शहीद हो गया।

प्राप्त ख़बर के अनुसार, पाकिस्तान के सीजफायर का जवाब देते हुए रजौरी में सेना का एक जवान शहीद हो गया है। इस फायरिंग में सेना के दो जवान घायल भी हो गए हैं।

ऑटोमैटिक हथियारों से की फायरिंग –

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि, सोमवार सुबह से ही जम्मू-कश्मीर के मेंढर के बालाकोट और मनकोट इलाके में पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया। इस बार ना पाक पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार के गोले और स्वचालित हथियार हमारी पोस्ट और नागरिक के रहने वाले क्षेत्रों में फेंके।

गौरतलब है कि आर एस पुरा में सीमा से सटे ज्यादातर गांवों के नागरिको के पहले ही सुरक्षित जगहों पर पहुचाँया जा चुका था लेकिन जो नहीं गए वो फायरिंग की दहशत के बीच ही गांव में रह रहे हैं।

 

भारतीय सेना की ओर से मुंहतोड़ जवाब –

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि, भारतीय सैनिक इस गोलीबारी का उचित एवं करारे ढंग से जवाब दे रहे हैं। भारतीय सेना ने पाकिस्तान की तरफ से हुई फायरिंग का भी मुंहतोड़ जवाब दिया। हालांकि, रात करीब 08.30 बजे के बाद किसी तरह की फायरिंग की खबर नहीं है।

हीरानगर में भी संदिग्ध गतिविधियां देखे जाने पर करीब 07.30 बजे भारत की तरफ से कुछ देर फायरिंग की गई थी। ऐसा माना जे रहा है कि पाकिस्तान कि तरफ से यह फायरिंग आतंकवादी गतिविधियों को छिपाने के लिए कि गई।

इन हमलों में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास स्थित सांबा, कठुआ और जम्मू जिलों को निशाना बनाया गया, जिसके कारण बीएसएफ को जवाबी कार्रवाई करनी पड़ी।

अब तक 8 जवान शहीद

पाक अधिकृत कश्मीर में आतंकी ठिकानों के खिलाफ भारतीय सेना द्वारा किए गए सर्जिकल हमलों के बाद से अब तक नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी सैनिकों की ओर से 60 से ज्यादा संघर्षविराम उल्लंघन किया जा चुका है।  

आपको बता दे कि सीमापार से घुसपैठ रोकते हुए अब तक 8 भारतीय जवान (आर्मी के 4-बीएसएफ के 4) शहीद हो चुके हैं।

 

‘मोदी-मैजिक’! इस बार भारत की “दिवाली” से निकलेगा चीन का “दिवाला”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कि “मेक इन इंडिया” योजना और इस दिवाली के त्योहारी सीजन में चीन के बने सामानों के बहिष्कार के सोशल मीडिया पर अभियान के चलते बने माहौल के कारण खुदरा व्यापारियों और थोक व्यापारियों के बीच चीन के सामान की मांग में पिछले वर्ष के मुकाबले लगभग 45 प्रतिशत की गिरावट आई है।

भारत में कोई भी चीनी सामान को खरीदने के लिए तैयार नहीं हैं। भारत में चारों ओर चीन के सामान का विरोध चल रहा हैं। एक तरफ जहां चीन के सामानों के विरोध में लोग सड़कों पर जला रहे हैं, तो दूसरी तरफ चीन के उत्पादों के खिलाफ एक मुहीम चला रखी हैं।

 

चीनी सामान खरीदने की मांग में हुई जबर्दस्त गिरावट (boycott Chinese goods)

सोशल मीडिया पर चीनी सामान के बहिष्कार के अभियान की तीव्रता और उसके कारण पैदा हुआ देशभक्ति का माहौल इसके पीछे वजह है। दीपावली की खरीददारी के माहौल में भारत में बनी लाइट्स, मुर्तियों आदि की मांग बढ़ने लगी हैं। इस कारण इस वर्ष खुदरा व्यापारियों द्वारा इम्पोर्टर्स और थोक व्यापारियों से चीनी सामान खरीदने की मांग गत वर्ष की तुलना में लगभग 45 प्रतिशत घटी है।

भारत के घरेलू व्यापार में जबर्दस्त उछाल (boycott Chinese goods)

India

क्योंकि, यहां मामला पाकिस्तान से जुड़ा है, इस वजह से लोगों में चीनी सामानों के प्रति जबर्दस्त विरोध है जिसकी वजह से सोशल मीडिया का यह अभियान घरों तक महिलाओं और बच्चों के बीच पहुंच गया है। त्योहारी खरीदारी में महिलाओं और बच्चों की बड़ी भूमिका होती है, इसलिए व्यापारी इस वर्ष चीन का सामान अपनी दुकानों पर रखने से भी कतरा रहे हैं और इसी वजह से चीनी सामान की मांग में इस वर्ष जबर्दस्त गिरावट आई है। जिसके कारण भारत के घरेलू व्यापार में जबर्दस्त उछाल दिखाई दे रहा है।

विरोध को देखते हुए लोग मान रहे हैं कि जिन थोक व्यापारियों ने काफी पहले चीनी सामान का आयात किया है, उन्हें इस वर्ष नुकसान होगा। चीनी पटाखे, बल्ब की लड़ियां, गिफ्ट का सामान, फर्नि¨शग फैब्रिक, इलेक्ट्रिक फिटग, इलक्ट्रोंनिक सामान, घरेलू सजावट का सामान, खिलौने, भगवान की तस्वीर एवं मूर्तियां आदि की बिक्री पर इस बहिष्कार का व्यापक असर पड़ेगा।

सोशल मीडिया ने दिखाई ताकत और चीन हुआ बर्बाद  (boycott Chinese goods)

chinese

भारत के दिल्ली-एनसीआर, पंजाब, राजस्थान, मध्यप्रदेश और हरियाणा जैसे राज्यों में चीन के सामानों का बहुत बड़ा बाजार है और पिछले कुछ वर्षों में चीनी उत्पादों ने बड़ी मात्रा में भारतीय बाजार में अपनी जगह बनाई है। पर इन्हीं राज्यों में चीन के सामानों का जबर्दस्त विरोध हो रहा है। भारत के इन राज्यों में भारत में निर्मित पटाखों तथा फायरशॉट की मांग पहले से अधिक बढ़ गई है। सबसे ज्यादा खुशी कि बात यह है कि ग्राहकों पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ा हैं।

भारत का पटाखा बाजार तेजी से उछला हैं, परन्तु चीन की कंम्पनियों की हालत खराब हैं और विचार कर रही हैं कि अपने उत्पादों को कैसे भारत के बाजार में बेचा जाए। खबरों के अनुसार चीन ने इस बार भारत में 1000 करोड़ और भेजने की तैयारी कि थी।

पाक और आतंकवाद का किया सपोर्ट तो भारतीयों ने सिखाया ड्रैगन को सबक (boycott Chinese goods)

Story

चीनी सामान की कीमत क्योंकि भारत में बने सामानों के मुकाबले काफी कम होती है और ये प्रचुर मात्रा में उपलब्ध रहते हैं। इसी कारण भारत में चीनी सामान की लोकप्रियता बनी है। चीनी सामान का बहिष्कार का सोशल मीडिया का अभियान यदि इसी तरह जोर पकड़ता रहा तो निश्चय ही इस दिवाली भारत में तो ‘दिवाली’ मनेगी लेकिन इस दिवाली से चीन का ‘दिवाला’ निकल जाएगा। अगर दुसरे शब्दों में कहे तो कह सकते हैं की इस बार भारतीय बाजारों में दिवाली हैं, तो चीन के कारोबार का दिवाला निकल चुका है।

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी कि “मेक इन इंडिया” योजना को भारतीयों द्वारा चीन के समानों का विरोध करने के कारण काफी बल मिला है। और लोग अब इस योजना को सफल बनाकर चीन द्वारा पाक द्वारा समर्थित आतंकवाद का साथ देने के लिए ड्रैगन को सबक सिखाना चाहते हैं। वाकई “मेक इन इंडिया” जैसे कार्यक्रमों और देशवासियों कि एक जुटता ने ये साबित कर दिया है कि भारत विश्व गुरु बनने कि राह पर आगे बढ़ रहा है।

मारा गया लश्कर का डिवीजनल कमांडर अबु साद

सुरक्षाबलों के लिए दो साल से सिरदर्द बना लश्कर-ए-तैयबा का डिवीजनल कमांडर अबु साद सोमवार को उत्तरी कश्मीर के लोलाब (कुपवाड़ा) में हुई मुठभेड़ में मारा गया, लेकिन उसके अन्य साथी बच निकले। उनकी धरपकड़ के लिए सुरक्षाबलों ने मुठभेड़स्थल के आसपास के इलाके में घेराबंदी कर तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है। इस बीच आतंकी साद के जनाजे में अलगाववादी समर्थकों ने शामिल होकर आजादी व जिहाद समर्थक नारेबाजी की। इस दौरान पुलिस और आतंकी समर्थक भीड़ के बीच हिंसक झड़पें भी हुईं।

जानकारी के अनुसार रविवार देर रात पुलिस को अपने तंत्र से पता चला कि लश्कर का डिवीजनल कमांडर अबु साद एलओसी (नियंत्रण रेखा) के साथ सटे लोलाब के सिवर गांव में छिपा हुआ है। यह गांव कवारी-बरनो जंगल के साथ सटा हुआ है। पहली बार सीमा की 15 चौकियां महिलाओं के हवाले 2014 में गुलाम कश्मीर से जम्मू कश्मीर में दाखिल हुए साद का पता चलते ही सेना और राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल के जवानों के एक संयुक्त दस्ते ने सीवर गांव का रुख किया। रात दो बजे जवानों ने आतंकी के संभावित ठिकानों की निशानदेही करते हुए घेराबंदी शुरू कर दी। साद गांव के बाहरी छोर पर जंगल के साथ सटे एक ढोक (कच्चा कुल्ला) में छिपा हुआ था। यह ढोक अब्दुल नजार नामक एक ग्रामीण की है और उसने ठंड बढ़ने के साथ ही उसे कुछ समय पहले खाली कर दिया था।

सुबह पांच बजे जवानों ने उस ढोक को घेर लिया, जहां साद अपने साथियों संग छिपा था। जवानों को अपने ठिकाने की तरफ आते देख आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया। सुबह आठ बजे तक जारी रही मुठभेड़ में साद मारा गया, लेकिन उसके अन्य साथी वहां से बच निकले। उनकी तलाश की जा रही है।

मारे गए आतंकी के पास से एक असाल्ट राइफल, तीन मैगजीन, एक रेडियो सेट और एक पाउच भी मिला है। इस बीच मुठभेड़ की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने मुठभेड़ स्थल की तरफ उत्तेजक नारेबाजी करते हुए मार्च किया। पुलिस द्वारा रोके जाने पर लोग हिंसा पर उतर आए। इस पर पुलिस ने भी बल प्रयोग किया और हालात पर काबू पाया। मारे गए आतंकी का शव पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने स्थानीय लोगों के हवाले कर दिया। उसे आजादी समर्थक नारेबाजी के बीच लोगों ने सुपुर्द ए खाक किया। पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर की गोलाबारी, बीएसएफ जवान शहीद

पाक ने फिर तोड़ा संघर्ष विराम, नौशहरा के कलाल सेक्टर में भारी गोलाबारी

Advertisement

पाक सेना ने मंगलवार की सुबह एक बार फिर से नौशहरा तहसील के कलाल सेक्टर में गोलाबारी शुरू कर दी है। पाक सेना ने पहले सैन्य चौकियों को निशाना बनाकर गोलाबारी की और इसके बाद रिहायशी क्षेत्रों को निशाना बनाकर मोर्टार दागना शुरू कर दिए। इस गोलाबारी में अभी तक किसी भी प्रकार के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। भारतीय सेना द्वारा भी पाक सेना को मुंह तोड़ जवाब दिया जा रहा है, लेकिन इसके बावजूद भी पाक सेना भारतीय इलाके में जमकर गोलाबारी कर रही है। पढ़ें- पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर की गोलाबारी, बीएसएफ जवान शहीद चार दिनों बाद पाक सेना ने फिर बरसाए गोले शुक्रवार की रात को पाक सेना ने राजौरी व पुंछ के बालाकोट सेक्टर में जमकर गोलाबारी की थी। इसके बाद पाक सेना ने मंगलवार की सुबह फिर से कलाल सेक्टर से गोलाबारी को शुरू कर दी है। जिससे सीमा के करीब रहने वाले लोगों में काफी दहशत का माहौल बना हुआ है। पढ़ें- जम्मू :जंग की तैयारी में थे आतंकी, बरामद हुआ हथियारों का बड़ा जखीरा

पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग बोले, भारतीय दिए ख़रीदें चीनी सामान का करें बहिष्कार

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने देशहित में एक बड़ी बात बोली है  वैसे सोशल मीडिया पर राष्ट्रवादी लोग इसकी मांग हमेशा से करते आये है, परंतु सहवाग जैसे बड़े नाम द्वारा इस तरह की मांग निश्चित ही एक अच्छा पहल है ! सबसे पहले तो आप  स्वयं देखें वीरेंद्र सहवाग ने क्या मांग की है | अंग्रेजी में है जिसका हिंदी अनुवाद हम नीचे लिखेंगे

वीरेंद्र सहवाग ने भारत के लोगों से मांग करि है की “दीपावली की शॉपिंग ऐसी जगह से करें, ऐसे लोगों से करें जो आपकी शॉपिंग के कारण दीपावली का त्यौहार मना सकें”आगे वीरेंद्र सहवाग ने टैग देकर कहा की “भारतीय दिए खरीदें”

वीरेंद्र सहवाग का कहना है की चीनी माल ना खरीदें बल्कि हमारे भारतीय लोगों से दीपावली की शॉपिंग करें

diya maker

आपको बता दें की हर दीपावली भारत में पाकिस्तान का मित्र और भारत का  शत्रु चीन अपना माल बेचता है, और भारत के लोग चीनी माल इतना खरीदते है की असल दीपावली चीन की हो जाती है वहां के सामान निर्माताओं की हो जाती है, और चीन भारत का धन ही भारत के खिलाफ इस्तेमाल करता है | अगर भारत के लोग कम से कम दीपावली ही पूर्ण स्वदेशी ठान कर मनाएं तो भारत के गरीबों को भी दीपावली की ख़ुशी मिल जाएगी और भारत का धन भारत में ही रहेगा |

वीरेंद्र सहवाग जैसे लोगों का समर्थन आप सबको करना चाहिए, और ये सन्देश पुरे भारत तक पहुचना चाहिए, जय हिन्द  !!

 

9 बातें जो आपकी करवा चौथ को हमेशा के लिए यादगार बना देंगी!

करवा चौथ, उत्तर भारत में मनाया जाने वाला एक बड़ा तीज-त्यौहार है.

वैसे बताया जाता है कि करवा चौथ सबसे अधिक राजस्थान में मनाया जाता है. राजस्थान में राजा-महाराजा सबसे अधिक युद्ध में लीन रहते थे और रानियाँ राजाओं की सलामती के लिए दुआएं मांगती थी. इसलिए राजस्थान का करवा चौथ के मेले विश्वभर में मशहूर हैं.

तो आइये आज हम आपको बताते हैं कि कैसे आप इस करवा चौथ को हमेशा के लिए यादगार करवा चौथ बना सकते हैं-

यादगार करवा चौथ –

1. मर्द हैं तो व्रत का मजा आप भी लें

आपकी पत्नी अगर आपके लिए व्रत कर रही है तो आप भी उनके लिए व्रत रखकर, उनको ख़ास होने जैसा अहसास दिला सकते हैं. आप भी पूरा दिन बिना पानी लिए व्रत करें जो उनकी लम्बी उम्र के लिए हो.

2. इस ख़ास मौके पर खास उपहार

आपकी पत्नी अगर आपके लिए व्रत रख रही हैं तो आपका फर्ज है कि आप घर जाते समय उनके लिए कोई खास उपहार लेकर जाएँ. इससे आपकी पत्नी को यह अहसास होगा कि आप उनकी चिंता करते हैं.

3. एक सरप्राइज पार्टी मनायें

अब अगर आपके परिवार में तीन या चार औरतें करवा चौथ का व्रत कर रही हैं तो आप इन सभी के लिए एक सरप्राइज पार्टी का इंतजाम कर सकते हैं. ऐसा करने पर यह सभी काफी खुश होंगी.

4. पत्नी को कहीं बाहर डिनर पर ले जायें

अगर आप सिंगल अपनी पत्नी के साथ रहते हैं तो आप उनको करवा चौथ वाली रात को कहीं बाहर, अच्छी-सी उनकी पसंदीदा जगह पर डिनर के लिए ले जा सकते हैं.

5. घर पर उनके लिए बनायें भोजन

अच्छा होगा कि करवा चौथ के अवसर पर आप उनके लिए कोई अच्छी-सी डिश बनाकर उनको खिलायें. इससे उनको अहसास होगा कि उनके लिए आपके दिल में खास जगह है. यदि वह व्रत कर रही हैं तो उनके पति को इस बात की फिक्र भी है.

6. पूरा दिन उनके साथ रहें

आप करवा चौथ के दिन ऑफिस से छुट्टी लें और पूरा दिन उनके साथ रहें. इससे यह दिन उनके लिए यादगार हो जायेगा. आपकी पत्नी इस छोटे से आपके प्रयास से बेहद खुश होगी.

7. बच्चों को आप हैंडल करें

यदि आपके बच्चे हैं तो करवा चौथ पर आप अपने बच्चों के लिए नाश्ता बनायें, उनको स्कूल छोड़ने जाये. इस तरह से भी आप उनको खुश कर सकते हैं.

8. घर को खास तरह से सजायें

वैसे यह तो मुश्किल है कि मर्द घर सजा सकें फिर भी करवा चौथ पर आपको अपना घर सजाना चाहिए. यदि आप ऐसा करते हैं तो आपकी पत्नी इस दिन को हमेशा याद रखेंगी.

9. आप अपनी कोई बुरी आदत छोड़ दें

मर्दों को ऐसी कोई आदत जरुर होती है जिससे उनकी पत्नी दुखी रहती हैं. आप इस करवा चौथ पर अपनी पत्नी के सामने यह कसम लें कि आप उस आदत को छोड़ रहे हैं. इससे बड़ा उपहार उनके लिए कुछ और हो ही नहीं सकता है.

ये है करवा चौथ को यादगार करवा चौथ बनाने के तरीके – तो इस तरह से आप अपने इस करवा चौथ को यादगार करवा चौथ बना सकते हैं. निश्चित रूप से अगर आप इनमें से बतायें गये उपायों की मदद से कुछ प्लान करते हैं तो आपकी यह रात तो खास बनेगी ही साथ ही साथ यह करवा चौथ हमेशा के लिए यादगार करवा चौथ बन जायेगा.

भारत में मौजूद है दुनिया की सबसे बड़ी पक्षी-मूर्ति, कला का अद्भुत नमूना

अगर आपने रामायण देखी, पढ़ी या सुनी है तो यक़ीनन जटायु की स्मृतियां आपके जहन में जरूर होंगी। वही जटायु, जिसने मां सीता की रक्षा करते हुए रावण के चंगुल से उन्हें बचाने के प्रयास में अपने प्राण त्याग दिए थे। युद्ध में रावण ने जटायु के पंख काट डाले, जिससे वह मरणासन्न स्थिति में पहुंचकर पृथ्वी पर गिर पड़े।

उन्हीं अपार शक्ति वाले जटायु को समर्पित केरल के कोल्लम जिले के चदयामंगलम गांव में ‘जटायु नेचर पार्क’ बनकर तैयार है। इस नेचर पार्क की सबसे बड़ी खासियत है यहां बनी जटायु की प्रतिमा, जो अपने आप में विशाल है।

यहां बनी पक्षीराज जटायु की प्रतिमा पूरी दुनिया में पक्षियों पर बनी सबसे बड़ी प्रतिमा है। एक पहाड़ पर बनी यह प्रतिमा 200 फीट लंबी, 150 फीट चौड़ी और 70 फीट ऊंची है। इसे बनाने में 7 साल का समय लगा। कहा जाता है कि यह प्रतिमा ठीक उसी जगह स्थापित है, जहां त्रेतायुग में जटायु युद्ध में घायल होकर गिरे थे।

jatayu

प्रोजेक्ट हेड और मलयालम फिल्ममेकर राजीव अंचल के नेतृत्व में इसे 15000 स्क्वायर फुट के एक प्लेटफॉर्म पर तैयार किया है।

इस नेशनल पार्क के इसी साल आम जनता के लिए खोले जाने की उम्मीद है। यह अद्भुत पार्क मानव-निर्मित है, जिसका उद्देश्य प्राकृतिक सहजीवन के साथ-साथ पर्यटन को बढ़ावा देना है।

इस नेचर पार्क में जटायु की प्रतिमा के साथ-साथ, 6D थियेटर और डिजिटल म्यूज़ियम भी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र हैं, जो जटायु और रामायण की झलक दिखाएगा। पार्क में केरल के प्रसिद्ध आयुर्वेद चिकित्सा की भी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

Homosexuality And Hinduism In Ancient India

The Section 377 of the Indian Penal Code states – “Whoever voluntarily has carnal intercourse against the laws of nature with any man, woman or animal shall be punished with imprisonment for life.”

However, due to tremendous support for granting of the ‘gay-rights’, this section was put off with immediate effect by the Delhi High Court thereby legalising consensual homosexual activities between adults. Owing to the dismay of many Indian communities towards this decision, the Supreme Court overruled the judgement of the High Court and the matter is again left untouched.

But what do you say when the beautifully preserved heritage of the Hindu Mythology supports ‘same-sex’ relationships? Can you deny the facts that prove its existence in history?

Read more below.

The tragic tale of ‘Aravan’

The tragic tale of 'Aravan'

Aravan is known to be the son of Arjuna and Ulupi who had to be sacrificed to let the Pandavas win the Mahabharat war. However, he did not want to die unmarried and no woman wanted to marry a man who was about to die the next day. So Lord Krishna took his female form, Mohini and married Aravan. He also slept with him a whole night and the next day mourned for him as he became his widow.

Lord Shiva and the Mohini avatar of Lord Vishnu

Lord Shiva and the Mohini avatar of Lord Vishnu

An old tale describes Lord Shiva and Goddess Parvati when once visit Lord Vishnu, Shiva asks Vishnu to take his very gorgeous Mohini avatar. When Shiva sees the elegant Mohini, he is overcome by lust and envies Parvati by chasing Mohini. And from the coupling of Shiva and Mohini, Maha-Sastha is born.

From the Vedic religion, this is Lord Buddha (the planet Mercury)

From the Vedic religion, this is Lord Buddha (the planet Mercury)

It is said in the Vedas that the planet Mercury (Lord Buddha) is neither male nor female. Brihaspati (Lord Jupiter) discovers that his wife, Tara (Goddess of stars) is pregnant with the son of her lover, Chandra (Moon God) and so he curses the child in the womb. The son Buddha later marries a man Ila, who becomes a woman when he walks into a forest.

The tale from the Ramayana

The tale from the Ramayana

It is said in the Ramayana that in order to taste Ravana, the Rakshasa women would kiss each other on the lips.

The story about the witty Lord Narada

The story about the witty Lord Narada

In order to understand Lord Vishnu’s Maya, Lord Narada baths into a lotus pond as his guide asked him to do so. When he comes out of the pond, he gets transformed into a beautiful woman and forgets his past. He even marries a king, lives his life as a queen and even had children!

The son of Lord Shiva and Mohini

The son of Lord Shiva and Mohini

The female avatar of Lord Vishnu, Mohini is worshipped throughout the Indian culture and known to be the gorgeous forms of the deity. It is a surprise because in the Shiva Purana, the birth of Lord Hanuman is traced to be from Lord Shiva and Lord Vishnu (Mohini).

These sculptures also have clear signs.

These sculptures also have clear signs.

Have a look at this sculpture in the temples of Khajuraho.

And the evergreen tale of the ‘Kamasutra’

And the evergreen tale of the 'Kamasutra'

The Hindu Mythology has illustrations in the Rigveda, which say that what is unnatural is also natural. It has references to homosexuality. And moreover, we have the ‘Kamasutra’ as the Indian treatise on sex which depicts homosexuality without any hypocrisy.

What do you say about this?

What do you say about this?

This erotic carving is also a part of the many sculptures which prove that homosexuality already had its roots in India.