बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया हलफनामा

बीसीसीआई अध्‍यक्ष अनुराम ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को लेकर उन्‍होंने आईसीसी के सीईओ डेविड रिचर्डसन को कोई पत्र नहीं लिखा था |

पिछली सुनवाई को सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर को आदेश दिया था कि वो एक व्‍यक्तिगत हलफनामा दाखिल करते हुए बताएं कि लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को लागू करने और सरकारी हस्‍ताक्षेप को लेकर उनकी आईसीसी से क्‍या बातचीत हुई थी | साथ ही उन्‍होंने यह भी बताया कि कैग का एक सदस्‍य काउंसिल में रखने को लेकर उनकी क्‍या राय है |

बीसीसीआई अध्‍यक्ष अनुराग ठाकुर ने अपने हलफनामे में बताया है कि शंशाक मनोहर ने कैग के किसी सदस्‍य को काउंसिल में नॉमिनी बनाए जाने का विरोध किया था | अनुराग ठाकुर ने यह बात सुप्रीम कोर्ट में आज दाखिल किए हलफनामे में कही है | ठाकुर ने हलफनामे में इस बात का भी जिक्र किया है कि 6 और 7 अगस्‍त को उन्‍होंने आईसीसी चेयरमैन शशांक मनोहर से बातचीत की थी |

ठाकुर ने बताया हैं कि आईसीसी चेयरमैन से मैंने यह निवेदन किया था कि आईसीसी एक पत्र जारी करके यह स्थिति साफ कर सकता है कि जब वो बीसीसीआई के अध्‍यक्ष थे तो उन्‍होंने क्‍या निर्णय लिए थे | इस पर शशांक मनोहर ने जबाव देते हुए बताया था कि जब लोढ़ा समिति की सिफारिशों पर निर्णय लिया गया तो मामला पहले से ही कोर्ट में चल रहा था |